India

भारत-चीन तनाव: जरा सी भड़की चिंगारी तो थामना मुश्किल, ड्रैगन को नई दिल्ली की दो-टूक, ‘पहले आए, पहले जाओ’


हाइलाइट्स:

  • भारत और चीन के बीच तनाव में कोई कमी नहीं आई है
  • LAC पर शांति जरूर है लेकिन एक चिंगारी से भी उसके खत्म होने की आशंका बनी हुई है
  • भारत ने ड्रैगन को साफ कहा है कि वह पहले LAC पर आया है, इसलिए उसे पहले हटना होगा
  • बता दें दोनों देशों के बीच मई से ही तनातनी जारी है

नई दिल्ली
वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर पूर्वी लद्दाख के करीब एक अबूझ सी शांति छाई हुई है। भारत और चीन (India-China News Today) के सैनिक बिल्कुल आमने-सामने खड़े हैं। तनाव अभी भी चरम पर है। एक छोटी सी चिंगारी भी बड़ी आग भड़का सकती है। जरा सी गड़बड़ हुई गलवान से भी बड़ी घटना सामने आ सकती है और फिर उसे थामना मुश्किल हो जाएगा।

‘पहले आए, पहले जाओ’
भारत ने एक बार फिर चीन से टो-टूक कहा है कि वह LAC से अपनी सेना को पूरी तरह हटा ले। सांतवें दौर की बातचीत में भारत ने चीन से कहा था ‘पहले आए, पहले जाओ’ की तर्ज पर उसके सैनिकों को LAC और पूर्वी लद्दाख से हटना होगा। बता दें कि 12 अक्टूबर को दोनों देशों के बीच फिर से बातचीत प्रस्तावित है।

पढ़ें, चीन के खिलाफ बन रहा है ‘महागठबंधन’, अब मनमानी नहीं कर पाएगा ड्रैगन

चालबाज चीन की चुप्पी
भारत के दो-टूक बात के बाद भी चालबाज चीन अभी चुप है। उसने जमीनी स्तर पर ऐसा कोई भी कदम नहीं उठाएं हैं जो यह साबित करे कि उसकी मंशा तनाव कम करने की है। रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चीन के धोखे के इतिहास को देखते हुए भारत ने पूरी तैयारी कर रखी है। सेनाएं उच्चतम स्तर पर सतर्क हैं। चीन और भारत के विदेश मंत्रियों के बीच 10 सितंबर को हुई बातचीत के बाद हालांकि ड्रैगन ने कोई भड़काऊ कदम नहीं उठाया है लेकिन LAC पर तनाव में कोई कमी नहीं दिख रही है।

जरा सी चिंगारी भड़की तो थामना मुश्किल

LAC पर दोनों पक्षों के हजारों सैनिक तैनात हैं। ऐसी स्थिति में थोड़ी सी भी गड़बड़ी मामले को बिगाड़ सकता है। सूत्रों ने बताया कि अभी तनाव कम होते नहीं दिख रहे हैं। भारत ने पूरी तैयारी कर रखी है। ठंड में के मौसम के लिए भारतीय सेना ने उच्चतम स्तर के लिए तैयार है।

भारत को भरोसा, चीन को दे देंगे मात

भारत को भरोसा है कि चीन को मात देने के लिए भारतीय सैनिक पूरी तरह ट्रेंड हैं। ऊंचाई और पहाड़ी इलाकों में लड़ाई में भारतीय सेना को महारत हासिल है। पैंगोंग और फिंगर 4 पर भारत की पैठ बढ़ने के बाद अब नई दिल्ली चीन को कोई ढील देने के मूड में नहीं है।



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

%d bloggers like this: