India

योर ऑनर कहने पर चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने जताया ऐतराज, बोले- ये अमेरिका की अदालत नहीं है



नई दिल्ली
सुप्रीम कोर्ट में एक मामले की सुनवाई के दौरान जब लॉयर ने चीफ जस्टिस को योर ऑनर संबोधित किया तो उन्होंने एतराज जताया। इस पर वकील ने माफी मांगी और फिर माई लॉर्ड कहकर संबोधित किया। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई चार हफ्ते के लिए टाल दी।

आप गलत टर्म से संबोधित न करें- सीजेआईचीफ जस्टिस एसए बोबडे की अगुवाई वाली बेंच में लॉ स्टूडेंट खुद पेश हो रहे थे और संबोधन के दौरान उन्होंने चीफ जस्टिस को योरऑनर संबोधित किया। तब चीफ जस्टिस ने ऐतराज जताया और कहा कि ये यूएस कोर्ट नहीं है। इस संबोधन से आप संबोधित न करें। याची लॉ स्टूडेंट ने माफी मांगते हुए माई लॉर्ड संबोधित किया तब चीफ जस्टिस ने कहा कि ठीक है और कहा कि आप गलत टर्म से संबोधित न करें।

चार हफ्ते के लिए टाली सुनवाईचीफ जस्टिस ने कहा कि गलत टर्म आपने इस्तेमाल किया है हम सुनवाई चार हफ्ते के लिए टालते हैं। निचली अदालत में जजों की नियुक्ति को लेकर अर्जी पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने उक्त टिप्पणी की। सुप्रीम कोर्ट ने याचिककर्ता से कहा कि आपकी तैयारी पूरी नहीं है आप मलिक मजहर सुल्तान केस में सुप्रीम कोर्ट के आदेश को नहीं सुना है आप तैयारी के साथ आएं।

योरऑनर का प्रयोग निचली अदालतों के जज के लिएजजों के संबोधन के तरीके पर सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट और 45 साल से प्रैक्टिस में रहने वाले एडवोकेट एमएल लाहोटी ने एनटीबी को बताया कि जो भारतीय सुप्रीम कोर्ट में परंपरा है उसके तहत हम जजों को योर लॉर्डशिप या माई लॉर्ड संबोधित करते हैं। योरऑनर का संबोधित आमतौर पर निचली अदालत के जजों के लिए लोग करते हैं।

इंग्लैंड की परंपरा अलग हैंसुप्रीम कोर्ट के जज और बार असोसिएशन ने भी कई बार संबोधन के मामले में कहा है कि सर का संबोधन हो सकता है। कई वकील सर कहकर भी संबोधित करते हैं। इंग्लैंड में वहां की अदालत में ज्यादा औपचारिक संबोधन है साथ ही वहां ड्रेस में वकीलों और जजों को विग भी लगाना होता है। लेकिन यूएस कोर्ट में अब चीजें काफी अनौपचारिक है वहां ब्लैक सूट व्हाइट शर्ट में वकील पेश होते हैं वहां गाउन आदि का चलन नहीं रहा और न ही किसी विग का चलन है जजों को सर कहकर संबोधित किया जाता है।



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

%d bloggers like this: