Business

Fact check: क्या आज से महंगा हो गया यूपीआई ट्रांजैक्शन! जानिए क्या है सच


हाइलाइट्स:

  • खबरों में दावा किया गया था कि 1 जनवरी से यूपीआई ट्रांजैक्शन महंगे हो जाएंगे
  • एनपीसीआई ने आज एक बयान में कहा कि इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है
  • कॉरपोरेशन ने लोगों से इस तरह की भ्रामक खबरों से सचेत रहने को कहा है

नई दिल्ली
मीडिया के एक वर्ग में आ रही खबरों में दावा किया जा रहा है कि 1 जनवरी 2021 यानी आज से यूपीआई ट्रांज़ैक्शन महंगे हो जाएंगे व थर्ड पार्टी एप्स से पेमेंट करने पर अतिरिक्त चार्ज लगेंगे। इनके मुताबिक National Payments Corporation of India (NPCI) ने 1 जनवरी से यूपीआई में प्रोसेस्ड ट्रांजेक्शन के कुल वॉल्यूम पर 30 फीसदी की सीमा लगाई है। यह प्रावधान सभी थर्ड पार्टी ऐप प्रदाता पर लागू होगा। इसके कारण ऐमजॉन, यूपीआई और फोनपे से भुगतान पर अतिरिक्त शुल्क देना पड़ सकता है। पेटीएम इस दायरे में नहीं है।

लेकिन एनपीसीआई ने आज एक बयान में कहा कि इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है। कॉरपोरेशन ने लोगों से इस तरह की भ्रामक खबरों से सचेत रहने को कहा है। उसका कहना है कि इस तरह का कोई चार्ज नहीं लिया जा रहा है और लोगों को बिना किसी चिंता के यूपीआई ट्रांजैक्शन जारी रखना चाहिए। कॉरपोरेशन ने साथ ही कहा है कि उसने 5 नवंबर को जो प्रेस रिलीज जारी की थी, उसकी प्राइसिंग या चार्ज से कोई लेना देना नहीं था। इसमें 1 जनवरी से यूपीआई में प्रोसेस्ड ट्रांजेक्शन के कुल वॉल्यूम पर 30 फीसदी की सीमा लगाई गई थी। यह प्रावधान सभी थर्ड पार्टी ऐप प्रदाता पर लागू होगा।

पीआईबी ने भी कुछ दिन पहले इस खबर का खंडन किया था। उसका कहना था कि एक खबर में दावा किया जा रहा है कि नए साल से यूपीआई ट्रांज़ैक्शन महंगे हो जाएंगे व थर्ड पार्टी एप्स से पेमेंट करने पर अतिरिक्त चार्ज लगेंगे। यह दावा गलत है। NPCI ने ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है।



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like

%d bloggers like this: